टेरर फंडिंग पर कोर्ट में हाफिज बोला, मैं बकसूर

लाहौर
मुंबई अटैक के मास्टरमाइड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में मंगलवार को आतंकवाद रोधी कोर्ट (ATC) में पेश किया जहां उसने खुद को बेकसूर बताया। उसने अपना बयान रिकॉर्ड कराया जिसमें उसने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया। आतंक रोधी विभाग ने हाफिज और उसके साथियों के खिलाफ पंजाब के विभिन्न शहरों में 23 एफआईआर दर्ज की थी। उसे पिछले साल 17 जुलाई को अरेस्ट किया गया था।

हाफिज को लाहौर की कोट लखपत जेल में रखा गया है। 10 जनवरी को सुनवाई के दौरान हाफिज को अदालत में सवालों की सूची सौंपी गई थी। कोर्ट के एक अधिकारी के मुताबिक, 'हाफिज ने अपने जवाब में खुद पर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वह निर्दोष है।'

अधिकारी ने कहा कि कोर्ट अब मामले की सुनवाई बुधवार को करेगा जिसमें आखिरी दलीलें रखी जाएंगी। बता दें कि पंजाब पुलिस के आतंक रोधी विभाग के आवेदन के बाद लाहौर और गुजरांवाला में हाफिज के खिलाफ केस जर्द किया गया था। हाफिज को कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश किया गया। सुनवाई कैमरे की निगरानी में हो रही थी और कोर्ट परिसर में पत्रकारों को घुसने की इजाजत नहीं दी गई।

लश्कर-ए-तैयबा चीफ हाफिज 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड है। इस हमले 166 लोगों की मौत हो गई थी और कई घायल हो गए थे। मृतकों में 6 विदेश नागरिक थे।

Leave a Comment