जोरदार वापसी की जताई उम्मीद, टीम इंडिया के लिए चुनौती बनेंगे साउदी

 
ऑकलैंड 

न्यूजीलैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज टिम साउदी ने कहा वह भारत के खिलाफ सीरीज में मिलने वाली चुनौती का इंतजार कर रहे हैं, जहां उन्हें बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है. साउदी को हालांकि न्यूजीलैंड के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खेले गए आखिरी टेस्ट से बाहर कर दिया गया था. उनकी जगह मैट हेनरी को अंतिम 11 में शामिल किया गया था. वह हालांकि इससे पहले टीम के चारों मैच की प्लेइंग इलेवन में शामिल थे, जिस दौरान टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की घरेलू सीरीज और ऑस्ट्रेलिया दौरे दो टेस्ट में टीम का हिस्सा रहे थे.

साउदी ने स्टफ डॉट सीओ डॉट एनजेड ने कहा, ‘यह सामांजस्य बैठाने के बारे में है. जो हुआ सो हुआ और यह मेरे लिए निराशाजनक था. उसने (हेनरी) इससे काफी कुछ सिखा होगा.’ टीम के तत्कालीन कोच गैरी स्टीड ने कहा था हेनरी के पास साउदी से ज्यादा गति है. भारत के खिलाफ शुक्रवार से शुरू हो रहे पांच मैचों की टी-20 सीरीज में साउदी को उम्मीद है कि वह गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई करेंगे.
 
उन्होंने कहा कि सिडनी टेस्ट मैच में मौका नहीं मिलने से वह निराश थे. उन्होंने कहा, ‘यह निराशाजनक है. जब आपको मौका नहीं मिलता है तो आपको अच्छा नहीं लगता. न्यूजीलैंड के लिए हर मैच खेलना मेरा सपना है और जब ऐसा नहीं होता तो निराशा होती है, लेकिन आपको फैसले का सम्मान करना पड़ता है और जैसे भी संभव हो टीम की मदद करनी होती है.’

साउदी पिछले साल न्यूजीलैंड के सभी 12 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले, जिनमें उन्होंने नौ में कप्तानी भी की. दरअसल, तब नियमित कप्तान केन विलियमसन या तो चोटिल थे या फिर उन्हें आराम दिया गया था. उन्होंने कप्तानी के अनुभव के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘मुझे खेल के बारे में सोचना अच्छा लगाता है. इससे आप जो कर रहे है उससे ज्यादा सोच सकते है. मैं विलियमसन की भी मदद करने की कोशिश करता हूं.’

Leave a Comment