नींद की गोली खिलाकर पत्नी और दूसरे शख्स को जिंदा जलाया, फिर बच्चे को गला घोंटकर मारा

दुर्ग
भिलाई (Bhilai) में हुए ट्रिपल मर्डर (Murder) का खुलासा हो गया है. पुलिस के मुताबिक महिला के पति ने ही हत्या की पूरी साजिश बनाई थी. प्लानिंग के तहत आरोपी ने तालपुरी के पारिजात कॉलोनी में घर लिया था, ताकि वारदात के बाद आसानी से फरार हो जाए. आरोपी रवि शर्मा ने पहले नींद की गोली खिलाकर महिला और एक अन्य शख्स की पहले हत्या की.

फिर दोनों को जिंदा जला दिया. उसके बाद आरोपी ने अपने दो माह के मासूम की भी गला घोंटकर हत्या कर दी. तीन हत्या करने के बाद आरोपी ट्रेन से फरार राउरकेला फरार होने के फिराक में था. पुलिस ने उससे पहले आरोपी रवि को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया. पूछताछ में आरोपी ने पुलिस (Police) के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया. पूरी घटना का खुलासा दुर्ग (Durg) एसपी अजय यादव ने किया है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी रवि शर्मा की पत्नी मंजू को उसके दूसरे शादी के बारे में भनक लग गई थी. इस वजह से आए दिन रवि और मंजू के बीच झगड़े होने लगे. इस बात से परेशान होकर रवि ने पत्नी मंजू को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. वारदात की रात आरोपी भिलाई के सिविक सेंटर इलाके के एक शराब दुकान पहुंचा. यहां से उसने पूरी वारदात की प्लान की.

आरोपी रवि ने शराब दुकान के पास से एक शख्स को शराब पिलाने के बहाने अपने घर ले आया. घर आकर उसने अपनी पत्नी से कहा कि ये शख्स उसे ब्लैकमेल कर रहा है. इसलिए उसकी हत्या करनी होगी. फिर, रवि और उसकी पत्नी मंजू ने मिलकर उस शख्स को नींद की गोली दी. फिर हाथ पैर बांध दिए. मौका देख आरोपी रवि ने पत्नी के भी हाथ पैर बांधे और मुंह में टेप लगाकर दोनों को जिंदा जला दिया. फिर आरोपी ने अपने बच्चे का भी गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी.

वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी रवि ने पत्नी मंजू के पिता को फोन किया था. फोन पर उसने कहा था कि अगर अपनी बेटी को बचा सकते हो तो बचा लो. पुलिस की पूछताछ में महिला के पिता ने इस बात का जिक्र पुलिस से किया था. उसने ये भी बताया था कि आरोपी ने किसी स्टेशन से फोन किया. इस क्लू के बाद पुलिस ने अपनी जांच शुरू की. आरोपी राउरकेला फरार होना चाहता था. उससे पहले पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

Leave a Comment