अगर आपके पास भी नहीं टिकता पैसा तो ये हो सकती है वजह

पैसा, आज के समय में हर किसी की जरूरत है। कहते हैं कि बिना पैसे के जीवन गुजारना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन है। इस समय हर कोई पैसा कमाना चाहता है, ताकि वह अपना व अपने परिवार का पालन-पोषण कर सके और इसके लिए वह मेहनत भी बहुत करता है। लेकिन कई बार लोगों के पास वही पैसा टिक नहीं पाता है, इसके पीछे का कारण वास्तु दोष हो सकता है। वास्तु शास्त्र की मानें तो यहीं वास्तु दोष बिना सोचे समझे पैसा खर्च कराता है, जेब कब खाली हो जाती है, पता ही नहीं चलता। आज हम आपको ऐसी बातें बताने जा रहे हैं, जो हर दूसरे घर के हाल को बयां करती हैं।

वास्तु शास्त्र की मानें तो हमारा कमाया हुआ धन घर की सबसे उत्तम दिशा में होना चाहिए, जो वास्तु के लिहाज से सम्पूर्ण हो। धन रखने के लिए घर में तिजोरी या खास अलमारी का प्रयोग भी किया जाता है। वास्तु की राय में यह तिजोरी भले ही किसी भी दिशा में हो लेकिन इस तिजोरी का मुख हमेशा उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए।

उत्तर दिशा की ओर अगर धन की तिजोरी हो तो यह धन में वृद्धि करती है, घर में सकारात्मक माहौल को लाती है और धन से जुड़े नुकसान से भी बचाती है।

कहते हैं कि घर के नलों का खराब होना, उसमें से पानी का टपकना, यह साधारण बात होती है लेकिन वास्तु के लिहाज से यह खतरनाक माना गया है और यह आर्थिक नुकसान को दर्शाता है।

नल से पानी का टपकते रहना धीरे-धीरे धन के खर्च होने का संकेत होता है।

जिनके घर में जल की निकासी दक्षिण या पश्चिम दिशा में होती है उन्हें आर्थिक समस्याओं के साथ अन्य कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

वास्तुशास्त्र के अनुसार बेडरूम में गेट के सामने वाली दीवार बेहद महत्वपूर्ण होती है। यह स्थान भाग्य और संपत्ति का क्षेत्र होता है। इसलिए यह कहा जाता है कि इस दिशा का सही होना जरूरी है।

हर किसी के घर में ऐसी कई चीजें होती हैं जो टूट गई हैं, खराब हो गई हैं या लंबे समय से इस्तेमाल में नहीं आ रहीं। वास्तु के अनुसार ये वस्तुएं जब लंबे समय के लिए एक जगह पड़ी रहें, तो नकारात्मक ऊर्जा को जन्म देती हैं। यह वास्तु दोष उत्पन्न करती हैं।

Leave a Comment