स्मार्टफोन सेल में आगे निकला वीवो

इंडियन स्मार्टफोन मार्केट में टॉप ब्रैंड्स के बीच कॉम्पिटीशन और खींचतान लगातार देखने को मिलती है और फिलहाल सैमसंग को झटका लगा है। 2019 की आखिरी तिमाही में चाइनीज कंपनी वीवो ने साउथ कोरिया के स्मार्टफोन मेकर सैमसंग को पीछे छोड़ दिया है। सेल्स और मार्केट शेयर में शाओमी टॉप पर बरकरार है लेकिन दूसरी पोजीशन पर चल रहे सैमसंग के लिए 2019 के आखिरी तीन महीने अच्छे नहीं रहे। वहीं, वीवो के मार्केट शेयर में 2018 के मुकाबले 100 प्रतिशत से ज्यादा की बढ़त दर्ज की गई है।साल 2019 की आखिरी तिमाही में मार्केट शेयर के मामले में भारत में ब्रैंड्स को उतार-चढ़ाव देखने को मिला है। इस तिमाही में 27 प्रतिशत मार्केट शेयर में शाओमी टॉप पोजीशन पर बना रहा, वहीं वीवो ने इसी टाइम इंटरवल में सैमसंग को पीछे छोड़ते हुए दूसरी पोजीशन पर जगह बनाई है। वीवो का मार्केट शेयर 2018 की आखिरी तिमाही के मुकाबले 132 प्रतिशत बढ़ा और 2019 में कंपनी ने 21 प्रतिशत मार्केट शेयर पर कब्जा किया है।

वीवो मजबूत और सैमसंग कमजोर
सैमसंग तीसरी पोजीशन पर पहुंच गया है और 2019 की आखिरी तिमाही में कंपनी का मार्केट शेयर 19 प्रतिशत रहा। जबकि 2018 में इसी टाइम इंटरवल के लिए सैमसंग ने 20 प्रतिशत मार्केट शेयर पर कब्जा किया था। इस तरह जहां वीवो का मार्केट शेयर 2018 के 10 प्रतिशत के मुकाबले बढ़कर 21 प्रतिशत पर पहुंचा, वहीं सैमसंग का मार्केट शेयर 1 प्रतिशत घट गया है। वीवो ने पिछले साल भारत में अपनी नई U और Z सीरीज लॉन्च की हैं, जिन्हें यूजर्स के अच्छी प्रतिक्रिया मिली है।

रियलमी का मार्केट शेयर घटा
वीवो ने अपने डिवाइसेज की सेल बढ़ाने के लिए सिर्फ ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल्स पर फोकस नहीं कर रहा, बल्कि ऑफलाइन रिटेलर्स के साथ मिलकर भी काम कर रहा है। वीवो ने इस साल की शुरुआत में ही अपने कई डिवाइसेज की कीमत में कटौती की है और ऑफलाइन स्टोर्स पर भी डिस्काउंट ऑफर कर रहा है। 2019 की आखिरी तिमाही में रियलमी का मार्केट शेयर भी थोड़ा कम हुआ है। 2019 की तीसरी तिमाही में रियलमी का मार्केट शेयर 16 प्रतिशत पर पहुंचा था, जो आखिरी तीन महीने में घटकर 8 प्रतिशत रह गया।

भारतीय मार्केट यूएस से आगे
इंडियन स्मार्टफोन मार्केट के लिए साल 2019 काफी महत्वपूर्ण रहा। काउंटरपॉइंट रिसर्च की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय स्मार्टफोन मार्केट सेल के मामले में यूएस के मार्केट से आगे निकल गया है और शिपमेंट के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा बाजार बनकर उभरा है। यह ग्रोथ मिडरेंज सेगमेंट में मौजूद चाइनीज स्मार्टफोन ब्रैंड्स शाओमी, वीवो और रियलमी के बीच कॉम्पिटीशन के चलते देखने को मिली है।

Leave a Comment