किसानों के लिए सरकार का बड़ा फैसला, इन उर्वरकों पर 28,655 करोड़ रुपए की मिलेगी सब्सिडी

नई दिल्ली
केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने किसानों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। दरअसल,  सरकार ने फॉस्फेटिक और पोटाश (पीएंडके) उर्वरकों पर 28,655 करोड़ रुपये की शुद्ध सब्सिडी की घोषणा की है ताकि रबी की बुवाई के सीजन में किसानों को ये पोषक तत्व सस्ती कीमत पर मिल सकें। आपको बता दें कि रबी (सर्दियों की बुवाई) का मौसम अक्टूबर में शुरू होता है।

कैबिनेट में फैसला: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए) की बैठक में अक्टूबर, 2021 से मार्च, 2022 की अवधि के लिए पीएंडके उर्वरकों के लिए पोषक तत्व आधारित सब्सिडी (एनबीएस) दरों को मंजूरी दे दी है। ये फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब किसान बिल के खिलाफ लगातार आंदोलन किए जा रहे हैं।  

बजट बढ़ सकता है: केंद्र सरकार ने वर्ष 2021-22 के बजट में उर्वरक सब्सिडी के लिए लगभग 79,600 करोड़ रुपये आवंटित किए थे और अतिरिक्त सब्सिडी के प्रावधानों के बाद यह आंकड़े बढ़ सकते हैं।

ये भी हैं फैसले: केंद्रीय मंत्रिमंडल ने स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) (एसबीएम यू) को 2025-26 तक जारी रखने को मंजूरी दी है। एसबीएम-यू 2.0 के लिए 1,41,600 करोड़ रुपये खर्च होंगे, जो मिशन के पहले चरण से 2.5 गुना ज्यादा है।

– केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अटल मिशन – अमृत 2.0 को 2025-26 तक के लिए मंजूरी दी है। अमृत ​​2.0 के लिए कुल खर्च 2,77,000 करोड़ रुपये का अनुमान है। अमृत ​​2.0 का लक्ष्य सभी 4,378 सांविधिक कस्बों में घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करके पानी की आपूर्ति का सार्वभौमिक कवरेज हासिल करना है। बता दें कि मिशन का लक्ष्य 2.68 करोड़ नल कनेक्शन और 2.64 करोड़ सीवर/सेप्टेज कनेक्शन प्रदान करना है।