भारत को हराने के बाद आज न्यूजीलैंड से ‘बदला’ लेने उतरेगा पाकिस्तान 

नई दिल्ली
मंगलवार को शारजाह में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप का मैच विश्व क्रिकेट के नजरिए से उत्सुकता भरा है क्योंकि पाकिस्तान की टीम का सामना न्यूजीलैंड से होने जा रहा है। टी20 वर्ल्ड कप से पहले न्यूजीलैंड ने जिस तरह से पाकिस्तान में आकर भी सीरीज खेले बिना अपने देश के लिए उड़ान भर ली थी उसने समूचे पाकिस्तान को हैरान कर दिया था। ये पाकिस्तान क्रिकेट की साख पर लगा ऐसा बट्टा था कि इंग्लैंड ने भी बाद में अपनी टीम को यहां पर भेजने से इंकार कर दिया था। इसके बाद पीसीबी रमीज राजा ने वर्ल्ड कप में तीन टीमों को सबक सीखाने की कसम खाई थी। जिनमें एक भारत को तो वे बुरी तरह रौंद चुके हैं। आज दूसरी टीम न्यूजीलैंड के साथ उनका मुकाबला है। तब रमीज की बातें सुनकर हंसी आने लगी थी लेकिन अब तस्वीर बदल चुकी है। 

भारत को इतनी बुरी तरह से दुनिया की कोई टीम हरा सकती है, ये कल्पना करना आज के समय में मुश्किल है। लेकिन पाकिस्तान ने साबित कर दिया है वे अगर चाहें तो अपने दिन पर कुछ भी कर सकते हैं। क्या आज भी पाकिस्तान का दिन होगा? सामने दुनिया की बेहद संतुलित टीम न्यूजीलैंड है लेकिन पाकिस्तान के पास यूएई में खेलने का जबरदस्त अनुभव है। 

दूसरे मैच में जब न्यूजीलैंड का सामना पाकिस्तान से होगा तो पाकिस्तान के हर क्रिकेटर के दिमाग में बदला होगा। क्योंकि बीती दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं ने पाकिस्तान की तैयारियों को बुरी तरह बाधित कर दिया है, कुछ ऐसा जिसे वे बहुत आसानी से नहीं भूलेंगे। बाबर ने भारत के खिलाफ मैच के बाद कहा था, "हम यहां सिर्फ भारत के खिलाफ जीतने के लिए नहीं आए हैं, हम यहां विश्व कप जीतने आए हैं, इसे हमेशा याद रखें।" दूसरी ओर, न्यूजीलैंड के कप्तान विलियमसन को उम्मीद है कि मंगलवार को जब टीमें भिड़ेंगी तो "सही भावना" बनी रहेगी। विलियमसन ने सोमवार को कहा, "मैं जानता हूं कि वहां मौजूद टीम पाकिस्तान में इस अवसर का बहुत इंतजार कर रही थी और क्रिकेट खेल रही थी। लेकिन दोनों टीमों के भीतर भी बहुत अच्छे संबंध हैं। इन वर्षों में उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ बहुत कुछ खेला है, और कई खिलाड़ी एक-दूसरे के साथ भी खेले हैं।

  वार्म-अप में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से हारने के बाद, न्यूजीलैंड को खास कॉन्फिडेंस नहीं मिला है। उनकी मुख्य चिंताओं में से एक कप्तान केन विलियमसन की फिटनेस है, जो कुछ समय से कोहनी के दर्द से जूझ रहे हैं। उन्होंने आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तानी में भी एक झंडा नहीं गाड़ा था। विलियमसन ने इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी नहीं की लेकिन ब्लैक कैप्स के पास विश्व स्तरीय गेंदबाजी आक्रमण है। उनके बल्लेबाजों को आगे बढ़ने की जरूरत है। कई चिंताओं के बावजूद, उनका आईसीसी आयोजनों में लगातार रिकॉर्ड है और कोई भी उन्हें अंतिम चार में जगह बनाने से इंकार नहीं कर सकता है। यह मैच शारजाह में होगा जहां हमने आईपीएल के दौरान बेहद धीमी और उबाऊ पिचें देखी थी। लेकिन जैसा की बताया जा रहा है यह धीरे-धीरे अपने मिजाज में बदलाव कर रही है। अगर पाक-न्यूजीलैंड मैच थोड़ा हाई-स्कोरिंग मुकाबला दिखे तो ताज्जुब नहीं होगा।