होटल का वेटिंग रूम कर सकता है आपके जीवन को Effect

सर्दी के इस मौसम में हर कोई घूमने फिरने जाता है, कोई पहाड़ों के ऊपर ठंडी हवाओं का लुत्फ़ उठाने के लिए जाता है तो कोई शिमला जैसे शहर की वादियों में बर्फ़ का आनंद उठाने जाता है। कुल मिलाकर कहने का भाव ये है जब पहाड़ों पर बर्फ़ पड़ने का ये दौर शुरू होता है तो घूमने-फिरने का सिलसिला लगा ही रहता है। अब आप सोच रहे होंगे भला हम आपको इन बातों से क्या समझाने व बताने की कोशिश कर रहे हैं तो आपकी जिज्ञासा को खत्म करते हैं और बताते हैं कि दरअसल कहीं न कहीं इन सब बातों का संबंध वास्तु शास्त्र से है। जी हां, आपको शायद हैरानी होगी परंतु ये सही है। इससे पहले कि आप सोचने लगे हम बताते हैं।

जैसे कि सब जानते हैं जहां भी हम रहते है, वास्तु की दृष्टि वो जगह हमारे जीवन को प्रभावित करती है। शायद आप लोग समझ ही चुके होंगे कि हम आपके घूमने-फिरने को वास्तु से क्यों जोड़ रहे थे। अगर आप नहीं समझे तो बता दें वास्तु के अनुसार चाहे घर को या बाहर जाकर रहने के लिए होटल, वहां रहने वालों पर अपना प्रभाव छोड़ ही देता है।

आज अपने इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं होटल के वेटिंग रूम और कॉंफ्रेंस हॉल के बारे में, जिसके बारे में वास्तु विशेषज्ञ खास जानकारी देते हैं। अक्सर आपने देखा होगा बड़े-बड़े होटलों में कमरों के अलावा अलग से जगह छोड़ी जाती है, जहां कई लोग एक साथ बैठकर बातें कर सकते हैं या फिर कोई मीटिंग कर सकते हैं। आम भाषा में इन जगहों को वेटिंग रूम या कॉंफ्रेंस हॉल कहा जाता है।  

अगर वास्तु की मानें तो जब आप कहीं घूमने जाते हैं और चाहे कुछ ही देर के लिए किसी होटल के वेटिंग रूम आदि में बैठते हैं तो ये हम पर अपना असर छोड़ जाता है। अब ज़ाहिर सी बात है अगर तो ये वास्तु के अनुसार सही दशा-दिशा में होगा तो इसका शुभ प्रभाव पड़ेगा। परंतु अगर इसका ये गलत  जगह होगा तो इसका आप पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।  

वास्तु शास्त्र की मानें तो होटल में वेटिंग रूम के लिए बाहर बगीचे में भी जगह छोड़ी जानी चाहिए या फिर होटल के अंदर ही एक बड़े हॉल जितना स्पेस छोड़ सकते हैं। इसके अलाव बताया जाता है वेटिंग रूम के लिए उत्तर या पूर्व दिशा का चुनाव करना सबसे बेहतर ऑप्शन होता है। बताते चलें होटल में कॉफ्रेंस हॉल के लिए उत्तर, पूर्व और ईशान कोण का चुनाव करना अच्छा साबित हो सकता है।

तो अगर आप किसी होटल में जा रहे हैं तो इन बातों को ध्यान रखें, वरना ऐसा न हो की आप घूमने-फिरने के चक्कर में अपने साथ प्रॉबल्मस ले आएं।

तो वहीं अगर आप होटल बनाने की सोच रहे हैं तो भी आपके लिए ये सभी बातें लाभदायक साबित हो सकती है। इससे आपकी अच्छी आय हो सकती है।

Leave a Comment