कोरोनाः बिहार के मुख्य सचिव बोले- जहां हैं- वहीं रहें, खाने की व्यवस्था सरकार करेगी

 
पटना 

कोरोना वायरस के खात्मे के लिए इस समय पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है, लेकिन इस फैसले से दूसरे शहरों और राज्यों में रह रहे लोगों में भय का माहौल है और अपने घर लौटने को लेकर बेहद परेशान हैं. इस बीच बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने अपने राज्य लोगों से आह्वान किया कि जो लोग जहां हैं वहीं रहें, उनके खाने-पीने की व्यवस्था की जाएगी.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन के ऐलान के बाद लोगों में अफरातफरी मच गई और लोग अपने घर की ओर कूच करने लगे. हालांकि कोरोना को खत्म करने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के उलट लोग सड़क पर आ गए और येन-केन प्रकारेण घर पहुंचने की जद्दोजहद में लग गए.
 
घर जाने की मची होड़
 उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में प्रवासी लोगों की भारी भीड़ दिखी. अब कई राज्य अपने यहां के लोगों को जहां पर हैं वहीं पर ठहरने की सलाह दे रहे हैं. अब बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा है कि जो जहां है वहीं रहे, उन्हें बिहार आने की जरूरत नहीं है. उन्होंने आगे कहा कि बिहार सरकार उनके खाने-पीने की व्यवस्था करेगी.
 
सिर्फ बिहार ही नहीं अन्य राज्यों की सरकारें भी ऐसा ही उपाय कर रही हैं. मध्य प्रदेश में भी कोरोना के नियंत्रण तथा लॉकडाउन के कारण लोगों के लिए खाने का प्रबंध कराया जा रहा है. मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने जहां भी लोगों को भोजन या आश्रय की व्यवस्था करना हो खर्च की अनुमति दी है. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिया है कि अगले 21 दिनों तक प्रदेश में कहीं भी मेले या समारोह आदि का आयोजन पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा.
 
मध्य प्रदेश में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी संख्या में ऐसे लोग हो सकते हैं, जिन्हें लॉकडाउन के कारण भोजन की व्यवस्था करने में कठिनाई आ रही हो ऐसी स्थिति में स्वयंसेवी संस्थाओं आदि को प्रेरित कर भोजन के पैकेट बनवाये जाएं और वितरण की व्यवस्था की जाए ताकि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे.

Leave a Comment