अनलॉक में बढ़ रही महंगाई की दर, रसोई का खर्च दस फीसदी बढ़ा 

जबलपुर
लॉकडाउन के अनलॉक के दौर घर चलाना महंगा हो गया है। किचन का खर्च 10 प्रतिशत तक बढ़ गया है। दरअसल, तेल, चावल के साथ दालों के भाव बढ़ गए हैं। वहीं खुली सामग्री की तुलना में पैक्ड सामग्री भी महंगी हो गई है। आटे के दाम में जरूर 20 प्रतिशत तक कमी आई है, लेकिन सब्जियों में टमाटर, आलू व प्याज भी महंगा मिल रहा है। शहर के एक किराना व्यापारी ने बताया कि मसूर दाल एक महीने पहले 55 से 60 रुपये किलो थी, जो अब 70 रुपये किलो तक पहुंच गई है। अरहर दाल के भाव 80से 90 रुपये किलो से बढ़कर अब 85 से 100 रुपये किलो तक हो गए हैं। कोरोना काल में सरसों तेल की मांग भी बढ़ी है।
ऐसे में ब्रांडेड पैकिंग 120 से 130 रुपये लीटर तक मिल रहा है। पहले यह 90 से 100 रुपये किलो तक था। शक्कर के फुटकर भाव 38 रुपये किलो तक चल रहे हैं। कुछ जगह भाव 50 पैसे से 1 रुपये तक बढ़े हुए हैं। सामान्य चावल के दाम 35 से 50 रुपये किलो तक है, जबकि बासमती चावल 60 से 120 रुपये किलो मिल रहा है। व्यापारी के अनुसार जो चावल खुले में 40 से 50 रुपये किलो तक मिलता है, वहीं पैकिंग में बढ़कर 70 रुपये किलो तक पहुंच जाता है। राजमा पहले 90 रुपये किलो तक बिक रहा था, जो अब 110 रुपये किलो तक हो गया है।
 

Leave a Comment