अपहरण का नाटक करने वाले कारोबारी को भोजपुर पुलिस ने पकड़ा

भोजपुर
भोजपुर के पीरो बाजार से 19 मई से लापता तरारी प्रखंड के डुमरिया निवासी गल्ला व्यवसायी मनोज कुमार गुप्ता को पुलिस ने बुधवार को पटना के आईजीएमएस के पास से बरामद कर लिया. पुलिस गल्ला व्यवसायी को बरमाद कर भोजपुर के पीरो ले आई.

इस मामले की जानकारी देते हुए पीरो डीएसपी रेशु कृष्णा ने बताया कि गल्ला व्यवसाई मनोज गुप्ता के बेटे रोहित ने पीरो थाना में अपने पिता के अपहरण की आशंका जाहिर करते हुए केस दर्ज कराया था. पीरो थाना में प्रथिमिकी दर्ज कराये जाने के बाद भोजपुर एसपी ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए गल्ला व्यवसायी की सकुशल बरामदगी के लिए पीरो थानाध्यक्ष जनमेजय राय, तरारी थानाध्यक्ष शशिकांत, नारायणपुर थानाध्यक्ष सुदेह कुमार के नेतृत्व में एक टीम बनाकर व्यवसाई की बरामदगी का टास्क दिया.

इसके बाद पुलिस टीम ने मोबाइल सर्विलांस और सीडीआर रिपोर्ट के आधार पर अनुसंधान चार दिन के भीतर आईजीएमएस पटना से बरामद कर लिया. पीरो डीएसपी के अनुसार पूछताछ में गल्ला व्यवसायी ने स्वीकार किया है कि उसके ऊपर किसानों का काफी कर्ज होने से वह परेशान था. इसी कारण 19 मई को जब वह अपने गांव के दो किसानों को पैसा देने के लिए पीरो आया तो उन किसानो को बैंक से कुछ पैसा निकालकर देने के बाद छुपकर आरा आ गया और वहा से ट्रेन पकड़कर पटना पहुंच गया.

इस दौरान वह अपने परिजनों से फोन पर बात कर अपने अपहरण की झूठी कहानी बताता रहा. व्यवसायी के अनुसार उसने अपहरण की झूठा नाटक इसलिए रचा ताकि उसके रिश्तेदार फिरौती की रकम जुटाकर दे जिससे वह बाद में अपना कर्ज उतार सके. वहीं पुलिस गल्ला व्यवसायी की आर्थिक स्थिति को देखते हुए उसे परिजनों के हवाले कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button