चीनी सैनिक पकड़ा गया लद्दाख के डेमचोक में , पूछताछ के बाद वापस PLA को सौंपा जाएगा

 
नई दिल्ली  

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच लद्दाख के डेमचोक से पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के एक सैनिक को आज हिरासत में लिया गया है. पूछताछ के बाद चीनी सैनिक को चीन वापस भेजा जाएगा. बताया जा रहा है कि हिरासत में लिया गया चीनी सैनिक कॉरपोरल रैंक पर है और शांगजी इलाके का रहना वाला है. उसके पास से सिविल और मिलिट्री डॉक्यूमेंट बरामद मिले थे.

भारतीय सेना के जवानों ने आज सुबह चीनी सैनिक को हिरासत में ले लिया था. उससे पूछताछ की गई. उससे भारतीय सीमा क्षेत्र में आने की वजह पूछी गई. जांच एजेंसियों की ओर से जासूसी मिशन के एंगल से भी मामले की पड़ताल की गई. वहीं सभी औपचारिक जरूरी कार्रवाई करने के बाद चीनी सैनिक को चीन वापस भेजा दिया जाएगा. 

भारतीय सेना की हिरासत में आए पीएलए सैनिक की पहचान कॉर्पोरल वांग या लांग के रूप में हुई है. वह 19 अक्टूबर 2020 को पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में भटक गया था. हिरासत में लेने के बाद पीएलए सैनिक को अत्यधिक ऊंचाई और कठोर जलवायु परिस्थितियों से बचाने के लिए ऑक्सीजन, खाना और गर्म कपड़े सहित चिकित्सा सहायता दी गई.
 
लापता सैनिक को लेकर चीन की पीएलए ने भारतीय सेना से अनुरोध किया गया था. स्थापित प्रोटोकॉल के अनुसार, चीनी सैनिक को औपचारिकताओं के पूरा होने के बाद चुशुल-मोल्डो बैठक बिंदु पर चीनी अधिकारियों को वापस सौंप दिया जाएगा.