विवेक ओबेरॉय के साले आदित्य सैंडलवुड 4 महीने से थे फरार ड्रग केस में गिरफ्तार 

चेन्नई
अभिनेता विवेक ओबेराय के बहनोई आदित्य अल्वा को सैंडलवुड ड्रग केस में संबंध में गिरफ्तार किया गया है। पिछले साल सितम्बर से फरार चल रहे अल्वा को बेंगलुरु पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को चेन्नई से गिरफ्तार किया गया। इसके पहले अल्वा एफआईआर रद्द कराने के लिए कोर्ट गए थे। सैंडलवुड ड्रग केस में बेंगलुरु क्राइम ब्रांच पुलिस को लंबे समय से आदित्य की तलाश थी। पिछले साल अक्टूबर में आदित्य अल्वा की तलाशी में बंगलुरु पुलिस ने विवेक ओबेरॉय के आवास पर भी छापेमारी की थी।
 

महंगी पार्टियों की शान रहने वाले अल्वा कर्नाटक के पूर्व मंत्री जीवराज अल्वा के बेटे हैं। वे बॉलीवुड अभिनेता विवेक ओबेरॉय के साले भी हैं। उनकी बहन प्रियंका अल्वा की शादी विवेक ओबेरॉय से हुई है। आदित्य अल्वा पर आरोप है उनके घर पर हाई प्रोफाइल पार्टियां हुआ करती थीं जिसमें ड्रग की सप्लाई की जाती थी। अल्वा के खिलाफ सितम्बर 2020 में एफआईआर दर्ज की गई थी। पुलिस सूत्रों के मुताबिक अल्वा एफआईआर दर्ज होने के बाद से ही चेन्नई में एक घर में रह रहे थे।

इस दौरान अल्वा चेन्नई से बाहर सक्रिय रूप से आते-जाते रहे। हालांकि पुलिस के पास ये जानकारी नहीं थी कि वह कहां जाते हैं। पुलिस को इनपुट मिला था कि वह चेन्नई पहुंचने वाले हैं जिसके बाद बेंगलुरु क्राइम ब्रांच पुलिस एक्टिव हुए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

अल्वा को चेन्नई स्थित जिस घर से गिरफ्तार किया गया वहां वे दो लोगों के साथ ठहरे हुए थे। दोनो अल्वा के दोस्त बताए जा रहे हैं। अभी उनके बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। गिरफ्तारी के बाद बेंगलुरु पुलिस आदित्य अल्वा को लेकर बेंगलुरु पहुंची जहां मंगलवार को उनका मेडिकल चेकअप किया गया। चेकअप के बाद अल्वा को कोर्ट में पेश किया जायेगा जहां पुलिस उनकी रिमांड की मांग करेगी।

प्राथमिक पूछताछ में अल्वा ने खुद को निर्दोष बताया है और कहा कि वह केवल अपने घर पर पार्टी रखता था। उसे नहीं पता होता था कि उसके घर पर होने वाली पार्टियों में ड्रग का इस्तेमाल किया जाता था।