विधायक वैशाली डालमिया को तृणमूल कांग्रेस ने दिखाया बाहर का रास्ता

नई दिल्ली।
पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने विधायक वैशाली डालमिया को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। बता दें कि वैशाली डालमिया ने पिछले कुछ दिनों से अपनी ही पार्टी के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाया हुआ था। हाल ही में उन्होंने टीएमसी के कुछ नेताओ पर निशाना साधते हुए कहा था कि कुछ भ्रष्ट नेता दीमक की तरफ पार्टी को खा रहे हैं। बता दें कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी के कई नेता बीजेपी का दामन थाम चुके हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि वैशाली डालमिया भी बीजेपी से संपर्क कर सकती हैं।

पार्टी से निकाले जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए वैशाली डालमिया ने कहा कि मुझे अभी तक अपने निष्कासन को लेकर लिखित में कुछ नहीं मिला है, मुझे ये खबर मीडिया के माध्यम से मिली है। मुझे पार्टी के ऑपरेटिंग सिस्टम की समझ नहीं थी। मैं जनता की सेवा करने के लिए राजनीति में शामिल हुई थी और आगे भी करती रहूंगी।

बता दें कि 52 वर्षीय टीएमसी विधायक वैशाली डालमिया पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष जगमोहन डालमिया की बेटी हैं। उन्हें हाल ही में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ देखा गया था जब वह बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली से मुलाकात करने वुडलैंड्स अस्पताल पहुंची थीं। वैशाली डालमिया ने कहा था कि मेरे पास कुछ लोगों की शिकायत आई है जो पार्टी के खिलाफ काम कर रहे हैं, वह उन लोगों के खिलाफ हैं जिस समुदाय की मैं सेवा कर रही हूं। मेरे क्षेत्र में ऐसे लोग हैं जो हावड़ा में व्यापार को पनपने नहीं दे रहे हैं। ऐसे लोग विधायक, सांसद और पार्टी के अन्य नेताओं के लिए बाधा पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं।

गौरतलब है कि बंगाल में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं जिसके मद्देनजर बीजेपी और टीएमसी के बीच कांटे की टक्कर होने की पूरी संभावना है। इस बीच जमीनी स्तर पर भी दोनों प्रार्टियों के बीच जंग बढ़ती ही जा रही है, टीएमसी को पिछले कुछ दिनों से बड़े झटके लग रहे हैं। पहले शुभेंदु अधिकारी ने के पार्टी का दामन छोड़ा। उसके बाद अन्य भी कई विधायकों और नेताओं ने पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस बीच टीएमसी ने बड़ा फैसला लेते हुए पार्टी के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाने वालीं विधायक वैशाली डालमिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।