केंद्र की मंजूरी के बाद प्रदेश में पांच नए मेडिकल कॉलेज खुलेंगे

 

भोपाल
डॉक्टरों की कमी से जूझ रहे प्रदेश के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार ने प्रदेश में पांच नए मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए पिछले हफ्ते मंजूरी दे दी है। श्योपुर, नीमच, मंदसौर, राजगढ़ और मंडला में ये कॉलेज खोले जाएंगे। इनके अलावा 6-7 और कॉलेजों को मंजूरी मिलने की उम्मीद है। एक कॉलेज खोलने में लगभग 325 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

इसके लिए 195 करोड़ (60 फीसदी) राशि केंद्र सरकार व 130 करोड़ राज्य सरकार देगी। जिला अस्पतालों से संबद्ध कर ये कॉलेज शुरू किए जाएंगे। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि प्रदेश को डॉक्टर मिल सकेंगे। साथ ही संबद्ध जिला अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ने से मरीजों को भी फायदा मिलेगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि कई राज्यों में नए कॉलेज खोलने के लिए मंजूरी दी गई है। इसमें मप्र में फिलहाल पांच कॉलेज शुरू करने की मंजूरी दी है। हालांकि, अनुमति संबंधी किसी तरह का पत्र मिलने से चिकित्सा शिक्षा विभाग के अफसरों ने इंकार किया है।

बता दें कि दो साल पहले तक प्रदेश में सिर्फ छह सरकारी मेडिकल कॉलेज थे। दो साल में सात नए मेडिकल कॉलेजों में दाखिले शुरू हो गए हैंं। मौजूदा कॉलेजों में एबीबीएस की 1870 सीटें हैं। करीब तीन साल में पांच नए मेडिकल कॉलेजों में भी दाखिला शुरू हो जाएगा। इनमें कम से कम 125 सीटें होंगी। बाद में सीटें और बढ़ाई जा सकेंगी। इसके अलावा छतरपुर, सतना और सिवनी में भी मेडिकल कॉलेज शुरू करने की कोशिश राज्य सरकार कर रही है।

Leave a Comment