लॉकडाउन खत्म होने के बाद और महंगे हो सकते हैं फोन, जानें वजह

नई दिल्ली 
स्मार्टफोन और महंगे हो सकते हैं। लॉकडाउन खत्म होने के बाद स्मार्टफोन ब्रैंड्स, कंपोनेंट्स (कलपुर्जे) की सप्लाई कम होने और करेंसी में उतार-चढ़ाव के कारण फोन के दाम बढ़ा सकते हैं। स्मार्टफोन ब्रैंड्स ने GST को 12 से बढ़ाकर 18 फीसदी किए जाने के बाद हाल में अपने-अपने फोन के दाम बढ़ाए हैं। यह बात मार्केट रिसर्च एजेंसी IDC ने कही है। IDC इंडिया के रिसर्च डायरेक्टर नवकेंदर सिंह ने बताया, 'स्मार्टफोन ब्रैंड्स पर इस साल ग्रोथ हासिल करने का तगड़ा दबाव होगा और वे कीमतें बढ़ाएंगे।' उन्होंने बताया कि अगली कुछ तिमाहियों तक स्मार्टफोन्स की डिमांग में गिरावट आएगी, क्योंकि ग्राहक फोन लेने की बजाय जरूरी चीजों पर खर्च करेंगे। उन्होने बताया कि फेस्टिव सीजन के दौरान तीसरी तिमाही के आखिर तक डिमांड में सुधार आएगा। कीमतें बढ़ने के साथ कमजोर रहेगा कंज्यूमर सेंटीमेंट
गैर-जरूरी खर्च सीमित रहने के कारण साल के दौरान रीटेल वॉइ-इन, खर्च और ब्रैंड्स की कुल आमदनी में गिरावट देखने को मिलेगी। उन्होंने कहा, 'साल 2020 में लंबा रिप्लेसमेंट साइकल देखने को मिलेगा। ब्रैंड्स कीमतें बढ़ाएंगे और कंज्यूमर सेंटीमेंट उम्मीद से कमजोर रह सकता है।' उन्होंने बताया कि डिमांड में सुस्ती निश्चित तौर पर रिप्लेसमेंट खरीदारी पर असर डालेगी, जिससे आमतौर पर एवरेज सेलिंग प्राइस ग्रोथ में मदद मिलती है। सिंह ने कहा, 'साल 2020 में कुछ अपग्रेड्स के साथ एवरेज सेलिंग प्राइस 155-165 डॉलर के बीच रहेगा।'
 
कंपोनेंट्स की किल्लत का पड़ेगा असर
IDC का अनुमान है कि साल 2020 की दूसरी तिमाही में कंपोनेंट सप्लाई से जुड़े मामलों के कारण बड़ा असर पड़ेगा। चीन में ज्यादातर कंपनियां अपना कामकाज शुरू कर रही हैं और अप्रैल आखिर या मई की शुरुआत में धीरे-धीरे कैपसिटी बढ़ा लेंगी। इसके अलावा, भारत के अंदर ट्रांसपोर्टेशन से जुड़ी पाबंदियों और सतर्कता के कारण भी फोन कंपोनेंट्स की सप्लाई पर असर पड़ेगा। सिंह ने बताया, 'इस वजह से भारत में मोबाइल फोन्स मैन्युफैक्चरिंग के लिए जरूरी कंपोनेंट्स की किल्लत होगी और इसमें दूसरी तिमाही के आखिर या तीसरी तिमाही के पहले सुधार आने की उम्मीद नहीं है।'
 
IDC के अनुमान के मुताबिक, साल 2020 में भारत के ओवरऑल हैंडसेट मार्केट में 20-25 फीसदी की गिरावट देखने को मिल सकती है। कोरोना वायरस के कारण स्मार्टफोन और फीचर फोन कैटिगरीज में क्रमशः 5 और 40 फीसदी की गिरावट देखने को मिल सकती है।

Leave a Comment