आज है महाआष्टमी, मंदिरों के बाहर दिखी भक्तों की कतार

नई दिल्ली
आज है महाअष्टमी आज के दिन मां दुर्गा की आठवीं शक्ति महागौरी की पूजा होती है। मां गौरी का रूप बेहद सरस, सौम्य, सुंदर और मोहक है। चैत्र नवरात्र के इस पावन दिन पर लोग उपवास रखे हुए हैं। दरअसल जो लोग नवरात्री के प्रथम और अंतिम दिन व्रत रखते हैं, वो लोग आज अष्टमी की व्रत रखे हुए हैं तो वहीं कुछ नवरात्रि के 9 दिनों का उपवास रखे हुए हैं। कोरोना महामारी के कारण मुंबई समेत कई राज्यों में मंदिरों को बंद कर दिया गया है, लेकिन इसके बावजूद लोगों ने मंदिरों के बाहर खड़े होकर मां की पूजा की है। 

आज है महाआष्टमी आज सुबह मुंबई के मुंबा मंदिर के बाहर भक्तों की लाइनें देखी गई हैं, हालांकि यहां पर मंदिर को 1 मई तक भक्तों के लिए बंद किया गया है। आपको बता दें कि नवरात्रि के 8वें दिन को कंजक दिन भी मानते हैं, भक्तगण अपने घरों में आज के दिन कन्याओं को भोजन कराते हैं क्योंकि कन्याओं को मां दुर्गा का रूप माना जाता है। आज के दिन बुद्धि और शांति की शक्ति को व्यक्त करता है। लोग इस दिन देवी महागौरी की पूजा करते हैं। देवी महागौरी अपने भक्तों की सभी इच्छाओं को पूरा करने की शक्ति रखती हैं।

मूलांक 8 सही मार्ग पर चलेंगे तो परेशानी नहीं आएगी मंदिरों के बाहर दिखी भक्तों की कतार मां गौरी को मां पार्वती का रूप माना जाता है और मां पार्वती के पुत्र हैं श्री गणेश, जिन्हें कि लड्डू या मोदक बहुत प्रिय है। इसलिए अगर आज मां को लड्डू या मोदक का भोग लगाते हैं तो मां अपने भक्तों पर दूनी खुशी से प्रसन्न होंगी। मां गौरी की पूजा सच्चे मन से धूप और अगरबत्ती से करें, मां अपने भक्तों से बेहद प्रसन्न होती हैं। इन मंत्रों से कीजिए मां गौरी की पूजा मंत्र: या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥ सुख-शांति के लिए कीजिए इन मंत्रों का जाप सर्वसंकट हंत्रीत्वंहिधन ऐश्वर्य प्रदायनीम्। ज्ञानदाचतुर्वेदमयी,महागौरीप्रणमाम्यहम्॥ सुख शांति दात्री, धन धान्य प्रदायनीम्। डमरूवाघप्रिया अघा महागौरीप्रणमाम्यहम्॥