आपके घर में भी है शिवलिंग तो ये करना न भूलें

हिंदू धर्म में सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित है और आज बहुत ही शुभ पर्व यानि महाशिवरात्रि का त्यौहार सोमवार के दिन ही आया है। कहते हैं कि शिवलिंग भगवान शिव का ही रूप हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि भोलेनाथ को एक लोटा जल अर्पित करने से भी वह प्रसन्न हो जाते हैं। लेकिन भगवान शिव जितने भोले हैं, उनका क्रोध उतना ही भयंकर भी है। 

कुछ लोग अपनी कई मजबूरियों के चलते मंदिर नहीं जा पाते तो वे लोग अपने घरों में ही शिवलिंग की स्थापना कर लेते हैं लेकिन अनजाने में उनसे अपराध हो जाते हैं। अगर घर में शिवलिंग रख रहे हैं तो कुछ विशेष नियमों को ध्यान में रखना जरूरी होता है। शास्त्रों में बताया गया है कि पूरे विधि-विधान से किया गया पूजन ही फलदायी होता है। वहीं पूजा में कोई कमी या गलती हो जाए तो यहीं पूजा विनाशकारी सिद्ध हो सकती है इसलिए घर में शिवलिंग रखा है या रखना हो तो कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें। आज हम आपको बताएंगे कि वास्तु शास्त्र में बताए गए उन नियमों के बारे में-  

  • वास्तु के अनुसार घर या ऑफिस में पारद शिवलिंग रखने से सुख और सौभाग्य की प्राप्ति होती है। 
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में अगर शिवलिंग है तो रोज़ाना बिल्व पत्र अर्पित करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा फैलती है और घर का वातावरण शुद्ध होता है।  
  • कहते हैं घर में स्थापित शिवलिंग पर हमेशा जल की धारा रहनी चाहिए। लेकिन एक बात का ध्यान हमेशा रखनी चाहिए कि अगर आप पारद शिवलिंग की स्थापना कर रहे हैं तो उस पर जलधारा नहीं होनी चाहिए। 
  • पारद शिवलिंग की विधि-विधान से पूजा करने पर धन लाभ होता है।
  • वास्तु में शास्त्र बताया है कि घर में शिवलिंग की स्थापना किसी बंद स्थान पर नहीं करनी चाहिए। शिवलिंग को खुले स्थान पर ही होना चाहिए। वरना उसका बुरा प्रभाव पूरे परिवार पर पड़ता है। 
  • पारद शिवलिंग को घर में रखने से सभी प्रकार के वास्तु दोष अपने आप ही दूर हो जाते हैं और साथ ही घर का वातावरण भी शुद्ध होता है।
  • कहा जाता है कि शिवलिंग को ऐसे स्थान पर कदापि न रखें, जहां विधि-विधान से पूजा नहीं हो सकती हो। विधि-विधान से पूजा न करने से महादेव का अपमान माना जाता है। जिससे व्यक्ति किसी पाप का भागीदार बन सकता है। 
  • घर में अंगुष्ट प्रमाण अर्थात अंगूठे के ऊपर वाले पोर के बराबर लंबाई का शिवलिंग ही स्थापित करें। 
  • घर में शिवलिंग है या रखना हो तो उसके पास सदैव माता गौरी और श्रीगणेश की प्रतिमा जरूर रखनी चाहिए। 
  • शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति को कोशिश यही करना चाहिए कि घर में पारद शिवलिंग की ही स्थापना करें, क्योंकि वही घर की शुद्धि के लिए सही रहता है।